शराब माफियाओं पर कहर बनकर बरपी नालंदा पुलिस,शराब फैक्ट्री का उद्भेदन,एक गिरफ्तार

बिहारशरीफ।मुख्यमन्त्री की सात निश्चय में एक शराबबंदी को लेकर नालंदा एसपी सुधीर कुमार पोरिका के निर्देश पर चलाए जा रहे अभियान के तहत सारे पुलिस को भारी सफलता मिली है। पुलिस ने जिले के सारे थाना क्षेत्र के भिखनी बिगहा गांव में शराब फैक्ट्री का खुलासा किया है। पुलिस ने 1450 शराब के पाउच, 90 लीटर कच्चा स्पिरिट,रॉयल स्टैग की 14 बोतल,पैकिंग करने वाली मशीन, दो महंगी चारपहिया वाहन व एक बाइक को जब्त किया है। मौके पर डोमन सिंह के पुत्र मनोज कुमार को भी दबोचा गया है।थानाध्यक्ष शशि रंजन ने बताया कि भिखनी बिगहा के एक मकान में वैष्णवी फैंसी पेपर प्लेट उद्द्योग की आड़ में शराब बनाने का गोरखधंधा चल रहा था। लोगों को किसी तरह का शक न हो इसके लिए मकान के आगे महंगी गाड़ियां लगी रहती थी।बताया जाता है कि फैक्ट्री में कच्चा स्पिरिट लाकर उसे पाउच में पैक कर आसपास के इलाकों में सप्लाई की जाती थी। पुलिस को छापेमारी के दौरान ढेर सारा प्लास्टिक के खाली पाउच व पैकिंग करने वाली मशीन हाथ लगी है। हालांकि धंधेबाज पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ा है। पुलिस उसकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है।नालंदा पुलिस के इस करवाई से शराब तस्करों में हड़कंप मच गया है। पुलिस कप्तान ने बताया कि यह करवाई तक तक जारी रहेगी जब तक शराब माफिया घुटना न टेंक दे। जिले में इस तरह की तस्करी या शराब की बिक्री व सेवन किसी भी कीमत पर बर्दास्त नहीं की जायेगी।मिली जानकारी के अनुसार भवन को सील कर दिया गया है।छापेमारी दल में अस्थावां इंस्पेक्टर जे.पी यादव,सारे थानाध्यक्ष शशि रंजन,बिंद थानाध्यक्ष राकेश कुमार शामिल थे।सूचना मिलते ही डीएसपी इमरान परवेज़ भी स्पॉट पर पहुंचकर जायजा लिया।

Top
Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.